Manipulated Media क्या होता है – हिंदी में

आज हम आपको Manipulated Media क्या होता है के बारे में पूरी जानकारी इस पोस्ट के जरिए देंगे। Manipulate Media यह शब्द मुख्य तौर पर ट्विटर में यूज़ किया जाता है। ट्विटर पर वीडियोज,ऑडियो फाइल ,इमेज जैसी सामग्री के साथ कोई छेड़छाड़ कर उसे Twitter पर शेयर करता है। तब ट्विटर यह टैग उस कंटेंट को देता है। आइए इसके बारे में और ज्यादा जानते हैं।

Manipulated Media क्या होता है –

Manipulated Media क्या होता है
Manipulated Media क्या होता है?

Manipulate का हिंदी मतलबहेरफेरहोता है। मैनीप्यूलेट मीडिया यानी कि ऐसी वीडियो,ऑडियो फाइल या पिक्चर जिसको बनाने में हेरफेर की गई हो। Manipulated Media कहलाता है। ट्विटर में लाखों पिक्चर और वीडियोस शेयर होती रहती है। जिसमें अगर ट्वीटर को लगता है। कि ऐसी वीडियो या पिक्चर से किसी को नुकसान जैसी की लड़ाईझगड़े या विवाद हो सकता है। तो ट्विटर Manipulated Media का टैग उस वीडियो या कंटेंट पर लगा देता है।

आखिर क्यों मैनीप्यूलेटड मीडिया का टैग किसी कंटेंट पर लगाया जाता है इसके पीछे कुछ कारण है जो इस प्रकार है।

खुद से Edit करके बनाया गया कंटेंट

Manipulate Media में ऐसा कंटेंट आता है। जो कि किसी सॉफ्टवेयर की सहायता से खुद से तैयार किया गया हो। कंटेंट में सत्यता बिल्कुल भी ना हो। आम लोग जो ऐसे कंटेंट को तैयार करते हैं। जो किसी को हानि पहुंचा सकता हो। ट्विटर एल्गोरिदम ऐसे कंटेंट को तुरंत पहचान लेता है और उसे मैनीप्यूलेट मीडिया का टैग देकर अपने प्लेटफार्म से हटा सकता है।

कंटेंट तैयार करने का उद्देश्य

शेयर की गई मीडिया फाइल का गलत उद्देश्य या फाइल में गलत शब्दों का चयन किया गया हो। तब भी कोई भी Twitter आप के कंटेंट को मैनीप्यूलेट मीडिया में डाल सकता है। जिस व्यक्ति ने ऐसे कंटेंट को डाला है। उसकी क्या भूमिका है खासकर Politicians जिस डाटा को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं। ऐसे डाटा पर ट्विटर की नजर रहती है। क्योंकि नेता जनता से जुड़े होते हैं।किसी भी फाइल को शेयर करते ही कोई विवाद खड़ा हो जाए। शेयर किए गए Media को एल्गोरिदम परख लेते हैं। और उसे Manipulated Media का लेबल दे देते हैं।

यह भी पढे

Startup क्या है | Startup कैसे शुरू करेंहिंदी में

असुरक्षित कंटेंट

ऐसा Content जो किसी समुदाय या जाति धर्म के लोगों की भावनाओं को आहत करता हो। उसे भी मैनीप्यूलेट मीडिया का लेबल दे दिया जाता है। किसी भी प्लेटफार्म पर ऐसे कंटेंट के पाए जाने पर तुरंत Action लिया जाता है।

निष्कर्ष

आखिर में दोस्तों अगर कोई व्यक्ति ऐसे मैनीप्यूलेट कंटेंट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करता है। तो उस व्यक्ति पर कठोर एक्शन लिया जा सकता है। इसलिए जनहित के लिए कार्य करें और ऐसे कंटेंट को जाने और उसकी सत्यता की जांच करें।सोशल मीडिया पर शेयर किए गए किसी भी वीडियो पर तुरंत विश्वास करें।

तो दोस्तों आपको हमारी पोस्ट Manipulated Media क्या होता है कैसी लगी। हमें नीचे कमेंट करके अवश्य बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों में शेयर करें।

Leave a Comment