IT Course क्या है, योग्यता,फ़ीस,करियर | What is IT Course in Hindi

हैलो दोस्तों,इस आर्टिकल के माध्यम से हम IT Course के बारे में जानेंगे। कि आख़िर IT Course क्या है? इस कोर्स को करने के लिए आपकी शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए। इसके अलावा आईटी कोर्स करने के लिए कितनी फीस लगती है। जैसी तमाम ओर भी जानकारी आपके साथ हम साझा करेंगे।

जैसा कि आप जानते ही हैं कि आज हमारे जीवन में टेक्नोलॉजी का कितना महत्व है। हर क्षेत्र में टेक्नोलॉजी का उपयोग हो चुका है। इसका मतलब आने वाले वर्षों में सभी कार्य कंप्यूटर की मदद से ही होंगे।

देश-विदेश में IT में नौकरी पाने कि युवाओं में होड़ है। आईटी इंडस्ट्री प्राइवेट होने के साथ-साथ आपको अच्छी सैलरी भी देती है।

IT Course सिर्फ वही स्टूडेंट करते हैं। जिनकी रूचि टेक्नोलॉजी में है। क्योंकि IT में Jobs मिलने के बाद आपका सारा काम कंप्यूटर पर ही होग़ा। अगर आप इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) के बारे में जानना चाहते हैं। तो आप हमारी इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है आर्टिकल को पढ़ें। इससे आप आईटी से जुड़ी सभी चीजों को जान जाएंगे।

तो चलिए IT Course क्या है इस कोर्स को करने के लिए आपकी योग्यता,फ़ीस क्या कितनी होती है। IT Course करने के बाद आप अपना करियर कैसे बना सकते है। जैसी सभी चीजों को विस्तार पूर्वक जानते हैं।

IT क्या है?

IT का पूरा नाम “Information Technology” है। आज हम जिस भी टेक्नोलॉजी का प्रयोग कर रहे हैं। वह सभी आईटी (IT) में आती है। आसान भाषा में IT में कंप्यूटर : ( हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर ) का उपयोग कर हर तरह के डाटा इनफार्मेशन को Create, Process, Secure व Exchange किया जाता है। सूचना प्रौद्योगिकी (IT) में कम्युनिकेशन, सर्वर, इंटरनेट, हार्डवेयर, डाटाबेस, सिक्योरिटी, सॉफ्टवेयर, एप्लीकेशन, नेटवर्क, हार्डवेयर समेत टेक्नोलॉजी की सभी शाखाएं शामिल है। यह सभी चीजें मिलकर ‘इंफॉर्मेशन सिस्टम’ बनाती हैं।

IT कैसे काम करती है?

हर व्यक्ति इंटरनेट का प्रयोग करता है। हर प्रकार की जानकारी हम internet के माध्यम से एक-दूसरे को भेजते हैं। इंटरनेट जो की इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) का हिस्सा है। यह हमारे दैनिक जीवन को आसान बनाता है। अपने काम से संबंधित जानकारी या बिजनेस संबंधित तकरीबन हर प्रकार की जानकारी इंटरनेट पर मौजूद है।

ठीक इसी प्रकार Information Technology काम करती है। बड़ा बिजनेस हो या आपका छोटा व्यापार आप IT के ज़रिए अपना काम किसी से भी करवा सकते हैं। कंप्यूटर में उपयोग होने वाले हार्डवेयर-सॉफ्टवेयर से अपने जरूरी डेटा को सुरक्षित रखना प्रॉसेस करना व एक्सचेंज कर सकते हैं।

यह सब कार्य आईटी (IT) के द्वारा ही संभव है। जिससे हमें हर प्रकार की सुविधा मिल जाती है। ठीक इसी प्रकार आईटी सेक्टर में आईटी कंपनी बिजनेस संबंधित समस्याओं के निवारण हेतु अपने Clients को कई प्रकार की IT Services प्रदान करती है।

IT Course क्या है?

IT Course क्या है
IT Course क्या है?

अमेरिका की बड़ी टेक कंपनियों में 60% से भी ज्यादा भारतीय IT Professionals कार्यरत है। अगर आप भी अपना भविष्य आईटी फील्ड में बनाना चाहते हैं। तो आपके पास IT Courses के कई ऑप्शन मोजूद है। भारत में 4000 से ज्यादा इंस्टीट्यूट और कॉलेज हैं। जो आईटी एजुकेशन देते हैं। भारत के आईटी स्टूडेंट्स सिर्फ घरेलू ही नहीं बल्कि विश्व की टॉप आईटी कंपनीज में अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं। ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट व सर्टिफिकेट लेवल पर आप आईटी कोर्स कर सकते हैं।

IT Course करने के लिए योग्यता

आईटी कोर्स करने के लिए आपके 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम में 60% अंक होने चाहिए। इसके बाद ही आप कॉलेज/इंस्टिट्यूट में दाखिला ले सकते हैं। आप अपनी इच्छा अनुसार यूजी व पीजी डिग्री या फिर डिप्लोमा, सर्टिफिकेट लेवल कोर्स को चुनकर आईटी के क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं। SC/ST स्टूडेंट्स और दिव्यांग के लिए इसमें 5% की छूट है।

आईटी कोर्स (IT) की फ़ीस कितनी होती हैं?

IT Diploma Courses की फीस 5 हज़ार से 35 हज़ार गवर्नमेंट कॉलेज फ़ीस और 15 हज़ार से 1.5 लाख प्राइवेट कॉलेज फीस होती है। वही UG IT Courses की फीस 4 लाख से 6 लाख तक होती है। PG IT Courses की फीस 30 हज़ार से 2 लाख प्राइवेट कॉलेज फीस व 10 हज़ार से 50 हज़ार तक गवर्नमेंट कॉलेज की फीस होती है। IT Certification Course की फ़ीस 10 हज़ार से 20 हज़ार तक होती है।

बता दे कीं ऐसे भी बहुत ऑनलाइन प्लेटफ़ोर्म है। जो Online आईटी सर्टिफ़िकेट कोर्स देते है। जो की निशुल्क़ हैं। आपके शहर राज्य के अलग-अलग College/Institute के अनुसार ऊपर बताई गई फीस थोड़ी कम ज्यादा हो सकती है।

IT Courses कितने प्रकार के होते है- Types Of IT Courses In Hindi

IT Courses मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं:

  1. Degree Course
  2. Diploma Course
  3. Certificate Course

इन कोर्स में कोई भी स्टूडेंट 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम पास करके दाखिला ले सकता है। जैसा कि हमने आपको इन तीनों कोर्स की योग्यता और फीस के बारे में बता दिया है। तो चलिए अब इन तीनों Course में क्या-क्या शामिल है। IT Courses के बारे में विस्तार से जानते है।

1. Degree Course

डिग्री कोर्स की अवधि बाकी आईटी (IT) कोर्स की तुलना में लंबी होती है। डिग्री कोर्स की अवधि 4 साल तक होती है। इन 4 वर्षों में आप आईटी टेक्निकल एजुकेशन संबंधित विषय पड़ेंगे। जैसा कि आप जानते ही है की डिग्री कोर्स में UG/PG दोनों IT Degree Courses आते हैं।

संख्यायूजी (UG) आईटी डिग्री कोर्सकोर्स की अवधि (Duration)
1.BA (IT)तीन वर्ष
2.B.Com (IT)तीन वर्ष
3.BBA (IT)तीन वर्ष
4.B.Sc (IT)तीन वर्ष
5.BIT (बैचलर ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नॉलजी) तीन वर्ष
6.B.E/B.Tech (Computer Engineering)पाँच वर्ष
7.M.E/M.Tech (Computer Engineering)पाँच वर्ष
8.BCAतीन वर्ष
9.B.E/B.Tech (Information Security)चार वर्ष
10.B.E/B.Tech (Information And Communication Tech.)चार वर्ष
11.B.E/B.Tech (IT Course Technology)चार वर्ष

अब जानते है (PG) पीजी आईटी डिग्री कोर्स के बारे में:

संख्यापीजी (PG) आईटी डिग्री कोर्स कोर्स की अवधि (Duration)
1.M.Tech (IT)दो वर्ष
2.MCAतीन वर्ष
3.M.E (IT)दो वर्ष
4.M.SC (IT)दो वर्ष
5.M.A (IT)दो वर्ष

2. Diploma Course

आईटी के बारे में बिल्कुल बेसिक से जानने के लिए IT Diploma Course भी आप कर सकते है। इस कोर्स की अवधि दो वर्ष तक होती है। Diploma Course कम्प्यूटर नॉलेज, कम्प्यूटर हार्डवयेर, टेलीकम्यूनिकेशन के बारे में बिल्कुल बेसिक से बताया जाता है। IT में डिप्लोमा कोर्स के लिए आपकी 12वी कक्षा पास होनी चाहिए।

संख्याडिप्लोमा (Diploma) आईटी कोर्स करीयर ऑप्शन
1.Graphic designingGraphic Designer, Printing Specialist, Brand Identity Manager, Creative Director
2.Animation And VFXVFX Professional, VFX Expert, Film Animation, Trainer
3.Web Designing And Development Web Designer, Web Devoloper, UEX Designer
4.Software EngineeringSystems Software Developer, Blockchain Engineer, QA Engineer
5.Mobile Application DevelopmentApplication Designer, UI Designer, Application Designer, Apptester
6.Digital MarketingDigital  Marketer, Digital Marketing Professionals, Online Brand Management, SEO Professionals

3. Certificate Course

आईटी सर्टिफिकेट कोर्स की अवधि 1 साल होती है। इसके लिए भी आपको 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए। सर्टिफिकेट कोर्स को “शॉर्ट टर्म कोर्स” भी कहा जाता है। परंतु इनके आधार पर भी आप आईटी में करियर बना सकते हैं। बड़ी-बड़ी घरेलू और विदेशी कंपनियां IT Certificate Course को प्राथमिकता देती है।

संख्याआईटी (IT) सर्टिफ़िकेट कोर्स
1.Cloud Computing
2.Data Science
3.Networking
4.Project Management
5.Machine Learning
6.Cyber Security

IT में करियर कैसे बनायें?

IT में करियर कैसे बनायें?

IT के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की शुरुआत आप 12वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी करने के बाद कर सकते हैं। कॉलेज या इंस्टिट्यूट में आप डिग्री कोर्स डिप्लोमा कोर्स या फिर सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं। इन तीनों आईटी कोर्स की अवधि,फीस और सैलरी अलग-अलग होती है। वहीं अगर आप यह कोर्स पूरा कर लेते हैं। आप आईटी फील्ड में अपना बेहतर करियर बना सकते हैं। IT में करियर बनाना अच्छा विकल्प है।

भारत सरकार के द्वारा “Digital India” मिशन के तहत भारतीय Software निर्यात पर बल दिया गया है। ताकि भारत सॉफ्टवेयर डेवलपिंग में आगे बढ़ सके। वहीं आईटी में करियर का अवसर का एक उदाहरण इस क्षेत्र में भारत की घरेलू कंपनियां विदेशी कंपनियां आईटी स्टूडेंट्स को Jobs देती है। जो अच्छी Salary पैकेज प्रदान करती है।

वहीं पिछले कई महीनों में आईटी स्टूडेंट्स की Microsoft, Google, Facebook जैसी बड़ी कंपनियों में चयन हुआ है। इससे साबित होता है कि IT में अपना करियर देखना बहुत अच्छा विकल्प है।

IT Jobs में क्या काम मिलता है?

IT Jobs में क्या काम मिलता है। यह आपके कोर्स पर निर्भर करता है। अलग-अलग कोर्स में अलग काम है। अपनी पसंद के अनुसार कोर्स पूरा करने पर आप किसी आईटी कोर्स में सॉफ्टवेयर इंजीनियर, प्रोग्रामर, नेटवर्क इंजीनियर, आईटी कंसलटेंट जैसी बहुत सी Jobs आप इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) फील्ड में कर सकते हैं।

आईटी के क्षेत्र में कौन सी जॉब आपको कोर्स पूरा करने पर मिल सकती है। उनको हमें नीचे सूची में बताया है। बता दें कि अगर आप यूजी/पीजी लेवल के Course करते हैं। तो आप IT के बारे में ज्यादा नॉलेज प्राप्त कर लेंगे। जो आपको आईटी फील्ड में High Paying Jobs पाने में मदद करेगी।

Information Technology (IT) फ़ील्ड में मिलने वाली जॉब्स के उदाहरण

  • Database Administrator
  • Web Developer
  • Software And Application Developer
  • Information Security Specialist
  • Information Technology Leadership
  • Computer Support Specialist
  • Cloud Computing Engineer
  • Information Technology Analyst
  • Hardware And Network Expert
  • Graphics Designer

IT Jobs में सैलरी कितनी मिलती है?

IT Jobs में अच्छी सैलरी मिलना आपके कोर्स पर निर्भर करता है। जैसे कि Undergraduate IT Course करने के बाद आपको 3 लाख से 4 लाख सैलरी प्रतिवर्ष आपकी स्किल के आधार पर मिलती है। वही Postgraduate IT Course करने के बाद 2 लाख से 6 लाख प्रतिवर्ष सैलरी मिलती है। जो बढ़कर 12 लाख तक जा सकती हैं। इन दोनों कोर्स को करने के बाद आप जिस काम में एक्सपर्ट होंगे। उसके आधार पर आईटी कंपनीज आपको सालाना पैकेज देती है।

आईटी जॉब्स में प्रोडक्ट बेस्ड कंपनियां (Google, Microsoft,Facebook) स्किल्ड स्टूडेंट्स को लेती है। जिन्हें 1 करोड़ से ऊपर प्रतिवर्ष सैलरी पैकेज मिलते हैं। वही जो हमारी भारतीय आईटी कंपनीज है। यह सर्विस बेस्ड कंपनियां ( TCS, Tech Mahindra, Infosys) है। जो आपने आईटी की फील्ड में कौन सा कोर्स किया है। आप किस काम में माहिर है। उस हिसाब से आपकी सैलरी दो से चार लाख प्रतिवर्ष सैलरी पैकेज दे दी है।

IT फ़ील्ड में ज़्यादा सैलरी देने वाली जॉब्स

जॉब प्रोफ़ाइलऔसत सैलरी (प्रतिवर्ष/Annum)
Project Manager Information Technology₹ 13 लाख या इससे ज़्यादा
Information Technology Consultant₹ 8 लाख या इससे ज़्यादा
Software Developer₹ 4 लाख या इससे ज़्यादा
Software Engineer₹ 4 लाख या इससे ज़्यादा
Senior Software Engineer₹ 7 लाख या इससे ज़्यादा
Senior Software Developer/Programmer₹ 8 लाख या इससे ज़्यादा
Team Leader₹ 9 लाख या इससे ज़्यादा
Data Scientist ₹ 5 लाख या इससे ज़्यादा
Network Engineer₹ 8 लाख या इससे ज़्यादा
Cloud Computing Professional₹ 6 लाख या इससे ज़्यादा

IT Engineer कौन होते है?

किसी कॉलेज/इंस्टिट्यूट से इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी यानी IT में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने वाले IT Engineer कहलाते हैं। डिग्री लेने के बाद आईटी कंपनीज या ऑर्गेनाइजेशन में यह कंप्यूटर डिवाइस, सॉफ्टवेयर, कोडिंग और सॉफ्टवेयर डिजाइनिंग, सॉफ्टवेयर टेस्टिंग में जैसे कार्यों को संभालते हैं।

IT Course करने के फ़ायदे

आईटी कोर्स करने के बाद अपनी Job के दौरान आप अपने काम में ओर ज्यादा बेहतर होते जाएंगे। यह अनुभव आपको किसी ओर बड़ी Tech Company में काम करने पर प्रेरित करेगा। आप जिस जॉब में अपनी सर्विस दे रहे हो। उसमें स्किल्ड होना।

मतलब बहुत सी घरेलू और ग्लोबल आईटी कंपनीज में आपको अपने स्किल दिखाने का मौका। आप अपने काम में बेहतर होते जाएंगे। जिसकी बदौलत आप अच्छी सैलरी के लिए किसी दूसरी कंपनी में जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं।

IT Course देश-विदेश में सबसे ज्यादा High Paying Jobs देने वाला कोर्स है। आईटी कोर्स करने पर आपको ज्यादा सैलरी दी जाती है। जो आपके काम करने के अनुभव के साथ बढ़ती ही है।

विश्व की प्रोडक्ट बेस्ड कंपनी (Google, Microsoft,Facebook) जैसी कंपनियां अपनी कंपनी में आईटी स्टूडेंट्स को जॉब देने के लिए कई प्रोग्राम चलाती है। जिनमें आईटी कोर्स को महत्व दिया जाता है। यह हाई सैलेरी पैकेज देती है। जो हर किसी का सपना होता है।

IT Course कितने प्रकार के होते है?

आईटी कोर्स तीन प्रकार के होते है- 1. डिग्री कोर्स 2. डिप्लोमा कोर्स 3. सर्टिफ़िकेट कोर्स

Information Technology Act 2000 क्या है?

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट 2000 आईटी एक्ट की 94 धाराओं में से एक धारा हैं। इसमें इंटरनेट व कंप्यूटर का प्रयोग ग़लत कार्यों में करने व टेक्नॉलजी का प्रयोग कर किसी व्यक्ति को परेशान करना जैसी आपराधिक गतिविधि के लिए 3 साल तक की सजा का प्रावधान है।

आईटी कोर्स की योग्यता क्या है?

अगर आप आईटी फ़ील्ड में अपना करीयर बनाना चाहते है। आईटी कोर्स करने के लिए आपके 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम में 60 प्रतिशत अंक होने चाहिए। SC/ST स्टूडेंट्स और दिव्यांग के लिए 5 प्रतिशत अंक की छूट है।

आईटी कोर्स की अनुमानित फ़ीस कितनी है?

आईटी कोर्स की फ़ीस आपके कोर्स पर निर्भर करती है। वहीं अगर UG/PG कोर्स की अनुमानित फ़ीस की बात करें तो 60 हज़ार से 4 लाख फ़ीस होती है।

विश्व की सबसे बड़ी आईटी कम्पनी कौन-सी है?

माइक्रोसॉफ़्ट कम्पनी विश्व की सबसे बड़ी आईटी कम्पनी है। जिसका रेवेन्यू $125.5 बिलियन डॉलर है।

निष्कर्ष-

IT Course करने वाले स्टूडेंट्स के लिए भविष्य में अच्छे मौके हैं। अपनी कड़ी मेहनत और स्किल के साथ अपने पसंदीदा कंपनी में जॉब तो पाएंगे ही इसके अलावा एक आईटी स्टूडेंट होने पर आप Freelancer के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं। वही भारत में आईटी इंडस्ट्री हर वर्ष बेहतर हो रही है।

भारत सरकार के द्वारा ऐसी कई पॉलिसी लाई गई है। जो कि भारतीय सॉफ्टवेयर डेवलपर को भारत में रहकर सॉफ्टवेयर बनाने की तरफ ध्यान देगी। National Policy On Software भारत सरकार के द्वारा लाइव पॉलिसी है। जो भारतीय सॉफ्टवेयर को ग्लोबल मार्केट तक पहुंचाने में मदद करेगी। इसमें भारतीय आईटी सेक्टर की कई Tech Companies शामिल है।

जो युवाओं को सॉफ्टवेयर डेवलपिंग में आगे बढ़ाने के लिए उन्हें Hire कर प्रतिवर्ष ज्यादा सैलरी प्रदान करेंगी। वहीं भारत Artificial Intelligence, Blockchain, Cyber Security फील्ड में भी आने वाले वर्षों में अपने आप को मजबूत करना चाहता है। भारत सरकार के द्वारा चलाई गई डिजिटल इंडिया, मेक इन इंडिया जैसी योजना के जरिए भी नए युवकों को IT में रोजगार मिलेगा।

IT Course क्या है? अगर आपको हमारा यह आर्टिकल इन्फ़ॉर्मटिव लगा तो इसे अपने दोस्तों में ज़रूर शेयर करे। और यह आर्टिकल आपको कैसा लगा नीचे कॉमेंट करके ज़रूर बतायें।

मेरा नाम Abhishek है। इस ब्लॉग का संस्थापक और लेखक हूं। मै Yoabby.com पर सभी आर्टिकल को हिंदी भाषा में लिखता हूं। मुझे लिखने का बहुत पहले से ही शौक था। ब्लॉगिंग के द्वारा मैं अपने शौक को भी पूरा कर रहा हूं। और साथ ही YoAbby.com पर आए लोगों को टेक्नोलॉजी के बारे में हिंदी भाषा में आर्टिकल उपलब्ध करवा रहा हूं।

Leave a Comment