Digital Technology क्या हैं? इसका महत्व,उपयोग, लाभ व नुक़सान हिंदी में

नमस्कार दोस्तों इस आर्टिकल में Digital Technology के बारे में जानेंगे। जिसे हिंदी में “अंकीय प्रौद्योगिकी” भी कहा जाता है। साथ ही आज हमारे जीवन में ऐसी तकनीक का क्या महत्व है। विस्तार पूर्वक आगे जानेंगे।

इंडिया में डिजिटल टेक्नोलॉजी को हर व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए भारत सरकार के द्वारा “डिजिटल इंडिया” कार्यक्रम चलाया गया है। जिससे देश का हर व्यक्ति डिजिटल तकनीक से परिचित हो सकें।

देश-विदेश में डिजिटल तकनीक का विस्तार होना शुरू हो चुका है। जहां इंटरनेट के माध्यम से लोग हर चीज के प्रति जागरूक हुए हैं। वहीं अब तकरीबन सभी कार्य इंटरनेट के माध्यम से होते हैं। जो डिजिटल टेक्नोलॉजी का हिस्सा है।

इंडिया में हर व्यक्ति Technology का कितना ज्यादा उपयोग कर रहा है। इसका अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है।कि इंडिया में 5G इंटरनेट सर्विस की डिमांड में बहुत उछाल देखा गया है। लोग इंटरनेट पर अपना कार्य करते हैं। अधिक मात्रा में डाटा खर्च होता है।

Digital Technology की हर क्षेत्र में अहम भूमिका है। चाहे वह शिक्षा, बिजनेस, फार्मिंग हेल्थ, एंटरटेनमेंट, मीडिया ही क्यों ना हो। आज हर कार्य में हम इस तकनीक का उपयोग कर रहे हैं। अंकीय प्रौद्योगिकी (Digital Technology) हमेशा समय के साथ विकसित होती जाएगी।

तो चलिए अब डिजिटल टेक्नोलॉजी क्या है? इसका महत्व,उपयोग, लाभ व नुक़सान से जुड़ी पूरी जानकारी हिंदी में जानते हैं। आर्टिकल को अंत तक पड़े। जिससे कोई जानकारी आप से ना छूटे।

Digital Technology क्या हैं?

Digital Technology क्या हैं
Digital Technology क्या हैं?

Digital Technology का मतलब ऐसी हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का उपयोग जो हमें सीखने और सिखाने में मदद करता हो। जैसे डिजिटल टेक्नोलॉजी का उपयोग शिक्षा, मीडिया, फार्मिंग, बिजनेस, स्वास्थ्य क्षेत्रों में किया जाता है। जिससे कार्य को आसान तीव्र गति और हर व्यक्ति को समझने और सीखने में आसान होती है।

उदाहरण: Computer, Artificial Intelligence (AI), internet, Audio-visual, games, social media, smartphone डिजिटल तकनीकी के उदाहरण है।

शिक्षा में डिजिटल टेक्नोलॉजी का उपयोग:

डिजिटल टेक्नोलॉजी को स्कूलों, कॉलेज, विश्वविद्यालयों संस्था में ज्यादा उपयोग किया जाता है। इस तकनीक के तहत कई सॉफ्टवेयर बनाए गए। जिन्हें कंप्यूटर की मदद से काम में लिया जाता है। चलिए अब शिक्षा में Digital Technology का उपयोग करने के कितने प्रकार हैं? जानते हैं।

1. Productivity Tools (उत्पादकता उपकरण)

ऐसे उपकरण वास्तव में Software होते हैं। जो कंप्यूटर पर कार्य करने वाले हर व्यक्ति की Work Productivity को बढ़ाते हैं। शिक्षा में विद्यार्थी और अध्यापक इन सॉफ्टवेयर के उपयोग से Documents, Presentations, charts, Graphs, Digital Painting, digital video बनाने जैसे कार्य कर सकते हैं।

2. Instructional Tools (निर्देशात्मक उपकरण)

यह ऐसे सॉफ्टवेयर होते हैं। जो विद्यार्थियों को किसी विषय को समझने में सहयोग करते हैं। जिससे वह आसानी से अपने सवालों का जवाब ऐसे सॉफ्टवेयर के जरिए जान पाता है। निर्देशात्मक उपकरण के प्रकार: applications, tutorials, instructional Games, Teacher Utilities, problem Solving.

3. Computer-Based Learning Technologies (कंप्यूटर आधारित शिक्षा टेक्नोलॉजी)

कंप्यूटर आधारित शिक्षा टेक्नॉलजी में शिक्षक विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम को गहराई से समझाने के लिए सॉफ्टवेयर और वेबसाइट का उपयोग करते हैं। व साथ ही इसके अंतर्गत विद्यार्थी का कंप्यूटर ज्ञान भी बढ़ता है। पाठ्यक्रम से संबंधित नोट्स भी विद्यार्थी ऐसी websites से प्राप्त करते हैं।

4. General References (सामान्य संदर्भ सामग्री)

शैक्षणिक कार्यों के लिए उपयोग सामग्री इसके अंतर्गत आती है। जिसमें Wikipedia, Encyclopaedia, bibliography, Digital Dictionary शामिल है। इनमें किताब से ज्यादा जानकारी विद्यार्थी पा सकते हैं। शिक्षक के द्वारा ऐसी सामग्री उपयोग करने की सलाह विद्यार्थियों को दी जाती है।

5. Research Tools (अनुसंधान उपकरण)

अनुसंधान उपकरण में इंटरनेट पर मौजूद ज्ञान के विभिन्न स्त्रोतों को शामिल किया गया है। जिसमें Blogs, Search Engines, Wiki, internet, websites शामिल हैं। विद्यार्थी और शिक्षक दोनों इन स्रोतों से जानकारी हासिल कर अपने ज्ञान को बढ़ा सकते हैं।

डिजिटल टेक्नोलॉजी का विभिन्न क्षेत्र में उपयोग:

टेक्नोलॉजी का मतलब जो मनुष्य के कार्य को जल्दी, आसान, सुविधापूर्ण बना दे। ऐसे में डिजिटल टेक्नोलॉजी हर क्षेत्र में उपयोग की जा रही है। जिससे लोग एक जगह रह कर देश-विदेश की जानकारी अपने स्मार्टफोन, कंप्यूटर, लैपटॉप पर जान पाते हैं।

1. Media (मीडिया)

डिजिटल तकनीक को ‘अंकीय प्रौद्योगिकी’ कहा जाता है। न्यूज़ मीडिया चैनल इस तकनीक का उपयोग सेटेलाइट्स और डिजिटल केबल से सूचना न्यूज़रूम तक जाती है। यह पूरी प्रक्रिया बाइनरी सिगनल्स 01-1S को केबल्स और सैटेलाइट के माध्यम से भेज पूरी की जाती है। सॉफ्टवेयर इसे Audio-Video, Graphics, Text के रूप में बदल कर हमें टीवी पर खबरें दिखाते हैं।

2. Business (व्यवसाय)

वर्तमान में ज्यादातर बिजनेस इंटरनेट के जरिए कमाई कर रहे हैं। जिससे वह Google, Bing सर्च इंजन का उपयोग कर विज्ञापन दिखाकर ग्राहकों को अपने प्रोडक्ट भेजते हैं। Digital Technology की मदद से ग्राहकों की संख्या के आंकड़ों पर नजर आसानी से रखी जाती है। जिससे पैसा बचता है। कम लोगों की जरूरत पड़ती है और कम समय में बिजनेस जल्दी फैलता है।

3. Health (स्वास्थ्य सेवा)

स्वास्थ्य संबंधी चीजों में डिजिटल टेक्नोलॉजी शुरू से ही उपयोग की जा रही है। परंतु वर्तमान में यह तकनीक इतनी विकसित हुई है कि आज इसके उपयोग से शामिल हैं। वहीं कई ऐसी डिवाइस भी बनाई जा चुकी है। जो Heartbeat, Foot steps, Calories burn जैसी चीजें छोटी सी स्क्रीन पर बता देती है।

4. Entertainment (मनोरंजन)

मनोरंजन में इस तकनीक में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का उपयोग कर संगीत सुनना, वीडियो देखना, गेम खेलना आदि इंटरनेट के माध्यम से किसी भी जगह पर कहीं से भी इन चीजों का आनंद ले सकते हैं। Video Calls से दूर बैठे रिश्तेदारों से बात कर सकते हैं। यह सब चीजें डिजिटल टेक्नोलॉजी के जरिए ही संभव हो पाई है।

डिजिटल तकनीकी का हमारे जीवन में क्या महत्व है?

वर्तमान में टेक्नोलॉजी के बिना आज कोई कार्य संभव नहीं है। यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आज हर विषय से संबंधित जानकारी मिल जाती है। websites, Apps, Blogs, Social Media, Online Advertising के जरिए अपने ज्ञान को बढ़ाना हो या बिजनेस को। सब कार्य डिजिटल टेक्नोलॉजी के अंतर्गत आते हैं।

विश्व भर के करोड़ों लोग Youtube, Blogs, Instagram से पैसा कमा रहे हैं। अगर टेक्नोलॉजी न हो तो बहुत से देशों की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचेगा। वहीं कई लोगों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ेगी। इसलिए डिजिटल टेक्नोलॉजी की हमारे जीवन में बहुत अहम भूमिका है।

डिजिटल टेक्नॉलजी के लाभ:

  1. किसी भी कार्य को जल्दी कर सकते हैं।
  2. इससे समय की बचत होती है।
  3. Digital Technology का उपयोग कर अच्छी कमाई की जा सकती है।
  4. देश-विदेश में कहीं पर भी रहकर तकनीक का उपयोग कर अपनों से बात कर सकते हैं।
  5. डिजिटल टेक्नोलॉजी की मदद से हर विषय से संबंधित जानकारी इंटरनेट पर खोज सकते हैं।

डिजिटल टेक्नोलॉजी के नुकसान:

  1. डिजिटल प्रोडक्ट्स जैसे स्मार्टफोन, कंप्यूटर के ज्यादा उपयोग से आंखों पर असर पड़ता है।
  2. एक ही जगह काम करते रहने से नई स्कील नहीं सीख पाते।
  3. इंटरनेट के बिना इसका उपयोग संभव नहीं।
  4. डिजिटल टेक्नॉलजी का ज़्यादा इस्तेमाल बच्चों के लिए हानिकारक।
  5. डिजिटल टेक्नोलॉजी की दिमागी क्षमता को कम करती है।

निष्कर्ष-

Digital Technology के तहत लगभग सभी देश अपना विकास कर चुके हैं। इसलिए भारत सरकार के द्वारा चलाया गया “डिजिटल इंडिया” कार्यक्रम सराहनीय है। जिससे हर कोई टेक्नोलॉजी में रुचि लेगा और इससे जानने-समझने की कोशिश करेगा। क्योंकि टेक्नोलॉजी ही भविष्य है। चाहे वह डिजिटल टेक्नोलॉजी, एजुकेशनल टेक्नोलॉजी या फिर इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) ही क्यों ना हो।

हमें आशा है आपको Digital Technology क्या हैं? इसका महत्व,उपयोग, लाभ व नुक़सान के बारे में आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा। ऐसे ही इनफॉर्मेटिव आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग के साथ बने रहे।

मेरा नाम Abhishek है। इस ब्लॉग का संस्थापक और लेखक हूं। मै Yoabby.com पर सभी आर्टिकल को हिंदी भाषा में लिखता हूं। मुझे लिखने का बहुत पहले से ही शौक था। ब्लॉगिंग के द्वारा मैं अपने शौक को भी पूरा कर रहा हूं। और साथ ही YoAbby.com पर आए लोगों को टेक्नोलॉजी के बारे में हिंदी भाषा में आर्टिकल उपलब्ध करवा रहा हूं।

Leave a Comment